गणपति वंदना

गणपति आये शरण तुम्हारे

सिद्धि सदन गजबदन विनायक

कृपा सिंधु सुन्दर सुखदायक

दूर करो प्रभु कष्ट हमारे

आये शरण तुम्हारे …

मोदक प्रिय मुद् मंगल दाता

विद्या वारिधि बुद्धि विधाता

सफल करो सब काज हमारे

आये शरण तुम्हारे …

शंकर सुवन भवानी के नंदन

करते है प्रभु तेरा वंदन

आन बसो प्रभु हृदय हमारे

आये शरण तुम्हारे …

विघ्न हरण हो प्रथम पूज्य हो

दुःख विनाशक अग्रगण्य हो

हम तो हैं प्रभु तेरे सहारे

आये शरण तुम्हारे …

हे गणेश गणनाथ दयानिधि

करूँ तुम्हारी पूजा केही विधि

मेरा यह वंदन स्वीकारें

आये शरण तुम्हारे …

गणपति आये शरण तुम्हारे

Advertisements

गणपति वंदना” पर एक टिप्पणी

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s